“डांस हमारे खून में है”, जापान में एनटीआर जूनियर कहते हैं ।

“डांस हमारे खून में है”, जापान में एनटीआर जूनियर कहते हैं ।

पिछले हफ्ते जापान में एस एस राजामौली की आरआरआर का प्रमोशन करते हुए, एनटीआर जूनियर ने भारत की संस्कृति में डांस और म्यूजिक के महत्व के बारे में गहराई से बात की।

जापान में हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान, एनटीआर जूनियर ने बताया की, “हम, भारतीय, वास्तव में डांस के बारे में कभी शिकायत नहीं करते हैं, हम अपनी मां के गर्भ से बाहर आने के समय से ही डांस के साथ पैदा होते हैं।  डांस हमारे खून में है, इसलिए आप अक्सर हमें इसके बारे में शिकायत करते हुए नहीं पाएंगे।”

उन्होंने आगे कहा, “डांस में रुचि हासिल करने के लिए आपको पहले डांस से प्यार करना सीखना चाहिए। हमारे पास तेलुगु फिल्म उद्योग में कुछ महान डांसर और कोरियोग्राफर हैं, उनमें से एक प्रभुदेवा हैं जिन्हें अभी भी भारतीय माइकल जैक्सन कहा जाता है।”

शायद इसी वजह से एस.एस. राजामौली ने एनटीआर जूनियर को विश्व स्तर पर लोकप्रिय गीत “नातू नातू” पर डांस कराया।  अभिनेता के फैंस उनसे मिलने के लिए अभिभूत थे और जापान में 21 अक्टूबर को रिलीज़ हुई उनकी ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘आरआरआर’ के प्रीमियर के दौरान एनटीआर ने उनके साथ बातचीत का आनंद लिया।

वर्क फ्रंट की बात करे तो, एनटीआर जूनियर कोराटाला शिवा की एनटीआर30 और प्रशांत नील की एनटीआर31 में दिखाई देंगे।

“डांस हमारे खून में है”, जापान में एनटीआर जूनियर कहते हैं ।

Actors