दहेज़ प्रथा पर आधारित हिंदी फ़िल्म ‘आखिर कब तक’

इतने नियम कानून और लोगो द्वारा निकाले गए कई आवेदन के बावजूद आज भी हमारे समाज में दहेज़ कुप्रथा कई लड़कियो के जीवन पर अभिशाप बनकर कहर कर रही है.दहेज़ इस गंभीर मुद्दे पर एक फ़िल्म भी बनकर तैयार है जिसका नाम है ‘आखिर कब तक’. जिस का ग्राफा काफी ऊपर है ! पी.ऍम .फिल्म्स के बैनर तले बनी यह फ़िल्म बनकर प्रदर्शन के लिए तैयार है जिसमे मनीषा सिंग ,विनय राणा, सुजान सिंह,विनोद मिश्रा, हबीब भाई,मेहनाफ श्रॉफ मुख्य भूमिका में नजर आएँगे.मनीषा सिंह इस फ़िल्म से बॉलीवुड में अपना कदम रखने जा रही है और इस फ़िल्म में उन्होंने अपने बेहतरीन अभिनय का प्रदर्शन किया है जिसे दर्शक बेहद पसंद करेंगे.इस फ़िल्म का निर्देशन मिथिलेश अविनाश ने किया है वही फ़िल्म का निर्माण निशिकांत झा द्वारा किया गया है.इस फ़िल्म की शूटिंग मुम्बई,मनाली,और महाबलेश्वर जैसे सुन्दर लोकेशन पर की गयी है.फ़िल्म में कुल 5 गाने है जो काफी कर्णप्रिय है जिसके गीत लिखे है रूप ने और संगीत जयंत आर्यन द्वारा दिए गए है,संगीत-जयंत आर्यन,नृत्य-संतोष सर्वदर्शी,डी. ओ.पी-डी.के शर्मा,सह-निर्माता-राहुल राज हंस,और पी.आर.ओ-संजय भूषण पटियाला.है !

Hindi News News